Shweta Tiwari : श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) की शादीशुदा जिंदगी हमेशा से ही चर्चा का विषय बनती है, फिर चाहे उनके पहले पति राजा चौधरी हो या दूसरे पति अभिनव कोहली (Abhinav Kohli) हो। जैसा की सभी जानते है श्वेता और उनके पति अभिनव के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) ने पति अभिनव पर घरेलु हिंसा का आरोप लगाया है। जिसके लिए अभिनव को जेल भी जाना पड़ा। हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में श्वेता तिवारी ने कहा था की अभिनव उन्हें बरबाद कर देना चाहते है। जिसपर अभिनव ने भी पलटवार किया है।

हाल ही में अभिनव कोहली (Abhinav Kohli) ने ईटाइम्स टीवी को दिए इंटरव्यू में कहा,’उनकी (Shweta Tiwari) इमेज बर्बाद करना मतलब मेरी इमेज बर्बाद करना है। चाहे कुछ भी हो आखिरकार वह मेरी पत्नी है। मैं बस मेरे बेटे के लिए आवाज़ उठा रहा हु। मुझे बस मेरे बेटे की चिंता है। कोई भी बाप यह सब बर्दाश्त नहीं कर सकता। श्वेता बस यह दिखाना चाहती है की मै महिला विरोधी हु जबकि ऐसा कुछ नहीं है। वह (Shweta Tiwari) कह रही है किसी भी महिला की इज़्ज़त एक पोस्ट से उछाली जा सकती है।’

अभिनव कोहली (Abhinav Kohli) आगे कहते है,’आज के ज़माने में महिला और पुरुष में कोई अंतर नहीं है। आज एक पोस्ट से सिर्फ महिला की ही नहीं आदमी की भी इज़्ज़त उतारी जा सकती है। मीटू के दौरान नाजाने कितने पुरुषो को आलोचना सुननी पड़ी क्योंकि महिलाएं आगे आकर अपना सच बता रही थी। लोगो ने उन्हें सपोर्ट भी किया। सच बात तो यह है की मेरा एक भी पोस्ट झूठा नहीं है।’

अभिनव ने बताया कि श्वेता ने उन्हें पिछले 1 साल से बेटे रेयांश से मिलने नहीं दिया और जब पुलिस ने भी मदद नहीं की तो उन्हें सोशल मीडिया का सहारा लेना पड़ा। उन्होंने कहा, ‘मई 2020 से श्वेता ने मुझे मेरे बेटे से नहीं मिलने दिया। जब मैंने देखा कि पुलिस भी मेरी मदद नहीं कर रही है तो मेरे पास मीडिया में जाने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं बचा था। इस देश में हर किसी के पास अपना पक्ष रखने का अधिकार है। यह मेरा संवैधानिक अधिकार है। मैंने अपनी इस आजादी का कोई गलत इस्तेमाल नहीं किया है। मैंने किसी को भी नीचा नहीं दिखाया, बस जो सच था वह बताया। मैं चाहता हूं कि लोग मेरा पक्ष भी सुनें।’

अभिनव ने श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) पर आरोप लगाया है की,’उनका बर्ताव मेरे प्रति अच्छा नहीं रहा है। कुछ चीजें ऐसी हुई है जिनपर में यकीन नहीं कर पाता। में पिछले 1 साल से अपने बेटे रेयांश से नहीं मिल पा रहा हु। आज मै अपने बेटे के लिए लड़ रहा हूँ खुद के लिए नहीं। श्वेता ने गलत इल्जाम लगाकर मुझे 2 रात के लिए जेल में बंद करवा दिया और फिर अगले दिन पलक ने पोस्ट शेयर किया कि उन्होंने मेरे साथ कुछ गलत बर्ताव नहीं किया था। बाद में पलक ने वह पोस्ट आसानी से डिलीट भी कर दिया। जब मैंने बाद में वही लेटर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया जो पलक ने शेयर किया था तो श्वेता ने फिर मेरे खिलाफ केस कर दिया।’